Tuesday , June 18 2024

पति ही निकला अपनी पत्नी व दो मासूमो का हत्यारा

अनिल गुप्ता ऊसराहर

पति ही निकला अपनी पत्नी व दो मासूमो का हत्यार उसने मात्र जीजा से प्रेम संबधों के शक में अपना पूरा परिवार तहस नहस कर डाला पत्नी के सर पर ईट से बार कर तालाब में ढकेल दिया था

ऊसराहार थाना क्षेत्र के सुजानपुरा गांव मे गुरूवार को योगेश यादव की पत्नी पवनेस कुमारी 30 वर्ष व उसके चार वर्षीय पुत्र दीपांसु 7 वर्षीय पुत्री खुशी के शव घर से आधा किलोमीटर दूर तालाब में तैरते हुए मिले थे मामले में योगेश ने अपनी पत्नी द्वारा आत्महत्या करने की बात कही थी लेकिन पवनेस के भाई सतेंद्र को पूरा यकीन था कि उसकी वहन व भांजो की हत्या की गई है उसकी तहरीर पर गुरुवार को ही योगेश के विरूद्ध हत्या का मामला दर्ज किया गया था  एसएसपी डाक्टर ब्रजेश सिंह ने इसके खुलासे के लिए थानाध्यक्ष तेजसिंह के साथ एसओजी की टीम को भी लगाया था अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह के नेतृत्व में सभी टीमे लगातार मामले को उजागर करने मे जुटी थी

शुक्रवार को पुलिस ने योगेश को हिरासत में लेकर पूछताछ की पहले तो उसने आत्महत्या की ही बात कही लेकिन जब पुलिस ने उसे बताया उसकी इस हरकत की बजह से उसके परिवार मे बचे बूढे मां बाप की जिंदगी भी खराब हो जाएगी जिसके बाद योगेश टूट गया और उसने सब कुछ उगल दिया थानाध्यक्ष तेजसिंह सीओ भरथना बिजय सिंह व एसओजी प्रभारी जेपी सिंह ने पूछताछ की आखिर में योगेश ने अपना गुनाह कबूल कर लिया उसकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या मे प्रयुक्त की गई ईट तालाब से बरामद कर ली

प्रेम प्रसंग की शंका मे उठा डाला योगेश ने इतना बडा कदम

जानकारी देते हुए बताया गया योगेश की पत्नी घर पर अक्सर फोन पर बात करती रहती थी यह बात उसकी काफी काफी देर तक होती थी लगातार बात होने पर योगेश को कुछ शंका हुई तो उसने पवनेस का मोवायल छीनकर चैक करने की कोशिश की लेकिन पवनेस ने  मोवायल से उस नंवर को डिलीट कर दिया जिससे उसकी शंका और मजबूत हो गई तीन सितंबर को पवनेस अपने बडे जीजा कमलेश के घर पट्टी थाना सौरिख तेहरवी सस्कांर मे गई थी अगले दिन वह अपने छोटे जीजा भगवान दास के घर अपनी वहन के साथ चली गई जब दूसरे जीजा के घर जाने की बात योगेश को पता चली तो वह उसे लेने उसके जीजा के घर ऊमरीपुरा थाना किशनी  पहुच गया उसने पवनेस से चलने को कहा तो उसने 13 सिंतबर को लगने वाले कुम्हौल के मेले को देखकर आने की बात कह दी इसी बात को लेकर दोनो मे झगड़ा भी हुआ योगेश उसे मारने को भी दौडा तो यह पवनेस को भी खराब लगा कि उसकी बेज्जती उसके जीजा के घर पर कर दी योगेश उस दिन वापस लौट आया पवनेश भी अगले दिन लौट आई दोनो मे दो दिन बातचीत नही हुई घटना वाली शाम को पवनेस फोन पर बात कर रही थी तो एकांत में बात करते देख योगेश को पक्का यकीन हो गया कि उसकी पत्नी की बात उसके जीजा से  होती है और दोनो मे प्रेम प्रसंग चल रहा है फिर दोनो मे खूब कहासुनी हुई तो योगेश ने कह दिया बच्चो को यही छोड़कर तू घर से निकल जा और जिससे बात होती है उसी के साथ जाकर शादी करले बच्चो को छोड दे गुस्से में तमतमा रही पवनेस ने भी उस समय कह दिया बच्चे तो उसके है ही नहीं इतना कहकर वह दोनो बच्चो को तालाब की ओर लेकर चली गई पीछे से योगेश भी तालाब पर पहुच गया वहा फिर दोनो मे झगडा होने लगा इसी बीच योगेश ने अपने पुत्र व पुत्री को उठाकर तालाब में यह कहते हुए फेंक दिया जब उसके बच्चे है ही नहीं तो वह उन्हे मार देंगा योगेश ने जैसे ही बच्चो को तालाब मे फेंका वैसे ही पवनेस योगेश से भिड गई तो योगेश ने वही पडी ईंट उठाकर उसके सर पर मार दी जिससे वह वेहोस होन लगी योगेश ने तुरंत ही पवनेस को तालाब मे फेंक दिया और घर वापस आ गया कहानी गढने के लिए रात मे ही ससुराल पहुच गया और पत्नी द्वारा जेवर व रूपए लेकर घर से गायब होने की सूचना दे दी रात में दो चार जगह खोजने की नौटंकी करता रहा सुबह खुद ही लोगो को लेकर तालाब की ओर पहुच गया