Wednesday , July 24 2024

झाड़ू से जुड़ी ये गलतियां बनती हैं कलह कलेश और तनाव की वजह

वास्तुशास्त्र हर किसी के जीवन में अहम भूमिका अदा करता है इसमें व्यक्ति के जीवन से जुड़ी हर एक चीज़ को लेकर नियम बताए गए हैं वास्तु में झाड़ू को लेकर भी कुछ नियम बताए गए हैं जिनका पालन लाभकारी माना जाता है लेकिन अनदेखी घर में कलह कलेश और तनाव का कारण बनती है।

तो आज हम आपको अपने इस लेख द्वारा उन्हीं नियमों की जानकारी प्रदान कर रहे हैं तो आइए जानते हैं।

ना करें ये गलतियां-
वास्तु और ज्योतिष अनुसार झाड़ू को कभी भी पैर नहीं मारना चाहिए अगर गलती से पैर लग जाए तो हाथ लगाकर क्षमा मांगे। इसे पैर लगाने से माता लक्ष्मी नाराज़ हो जाती है। वास्तु अनुसार झाड़ू को घर में कहीं पर भी नहीं रख देना चाहिए बल्कि इसके लिए एक निश्चित जगह बनानी चाहिए। जहां किसी बाहरी की नजर ना पड़ें। इसके अलावा झाड़ू को पूजा घर, तुलसी, तिजोरी, रसोई और बेडरूम में भी नहीं रखना चाहिए यहां पर झाड़ू रखना अशुभ माना जाता है।

अगर घर की झाड़ू बेकार हो गई हैं तो इसे कभी भी वीरवार या फिर शुक्रवार के दिन बाहर नहीं फेंकना चाहिए। एकादशी और पूर्णिमा के दिन भी ऐसा नहीं करना चाहिए इसे अशुभ माना जाता है। इसके साथ ही कभी भी पुरानी झाड़ू को जलाना नहीं चाहिए ऐसा करने से लक्ष्मी नाराज़ हो जाती है।

शास्त्र अनुसार शाम के वक्त भूलकर भी झाड़ू नहीं लगाना चाहिए ऐसा करने से माता लक्ष्मी नाराज़ हो सकती है जिससे परिवार को दुख दरिद्रता और अन्य परेशानियों का सामना करना पड़ता है।