Tuesday , May 28 2024

कॉलोनाइजर ने सिंचाई विभाग की टीम को बनाया बंधक, जूतों से पीटा; अवैध पुलिया ढहाने के दौरान वारदात

आगरा:उत्तर प्रदेश के आगरा में रजवाहा पर अवैध पुलिया ढहाने गए सिंचाई विभाग के अवर अभियंता और उनकी टीम को कॉलोनाइजर ने साथियों संग बंधक बना लिया। बुलडोजर की चाबी छीनकर तोड़फोड़ कर दी। अवर अभियंता और कर्मचारियों की जूतों से पिटाई की। टीम किसी तरह बचकर भाग निकली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में ले लिया। घटना मलपुरा थाना क्षेत्र के बरारा गांव की है। सिंचाई विभाग लोअर खंड के अवर अभियंता अमन जैन बृहस्पतिवार दोपहर एक बजे सींचपाल विजयपाल कंसाना, सींच पर्यवेक्षक राकेश कुमार के साथ बुलडोजर लेकर बरारा स्थित रजवाहा पर गए थे।

अवर अभियंता ने बताया कि रजवाहा पर कॉलोनाइजर ने कालोनी बसाने के लिए अवैध पुलिया का निर्माण किया था। नहर की पटरी पर गिट्टयां भी डाल दी गई थीं। शिकायत पर वह पुलिया हटाने गए थे।
आरोप है कि कॉलोनाइजर ने बुलडोजर की चाबी छीन ली। विरोध पर बंधक बना लिया। पुलिस को कॉल करने पर मोबाइल तोड़ दिया। जूतों से पिटाई की। वह किसी तरह बचकर भागे।

पुलिस कंट्रोल रूम पर सूचना दी। पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। अवर अभियंता ने कॉलोनाइजर और उसके साथियों के खिलाफ तहरीर दी। इसमें मारपीट, बंधक बनाने, गाड़ी में तोड़फोड़ और सरकारी कार्य में बाधा डालने का आरोप है। डीसीपी पश्चिम जोन सोनम कुमार का कहना है कि मामले में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

20 दिन पहले तोड़ी पुलिया बनाई
ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि रजवाहा पर दो महीने पहले पुलिया का निर्माण किया गया था। इसकी शिकायत की गई थी। इस पर सिंचाई विभाग की टीम ने पुलिया को ध्वस्त कर दिया था। मगर, दबंग कॉलोनाइजर ने फिर से पुलिया का निर्माण कर लिया। इस बार कार्रवाई पर टीम पर हमला बोल दिया।