Tuesday , May 21 2024

इटावा सेनानी परिजनों ने किया असम राइफल्स जवानों की ‘फ्रीडम साइकिल रैली’ का स्वागत

भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के मद्देनजर देश भर में जारी ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत असम राइफल्स द्वारा निकाली गई साइकिल रैली शनिवार को इटावा पहुंची। शास्त्री चौराहा पर असम राइफल्स के जवानों ने स्वतंत्रता सेनानी पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की प्रतिमा की साफ सफाई कर माल्यापर्ण किया। राष्ट्रीय स्वतन्त्रता सेनानी परिवार के प्रदेश महासचिव एवं ब्राण्ड एम्बेसडर नगर पालिका परिषद आकाशदीप जैन बेटू के नेतृत्व में सेनानी परिजन अतुल सोनी, किशन कुमार पोरवाल, रामलखन यादव ने साइकिल रैली में आये असम राइफल्स के जवानों का माला और तिरंगा पटका पहना कर स्वागत किया। उक्त रैली का फ्लैग ऑफ गत पांच सितंबर को शिलांग से डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ असम राइफल्स मुख्यालय लैटकोर के डायरेक्टर जनरल लेफ्टिनेंट पीसी नायर ने किया था। ‘फ्रीडम साइक्लिंग रैली’ का नेतृत्व कर रहे मेजर मधुसूदन ने आजादी के अपराजेय योद्धा जनपद के वरिष्ठ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व:कृष्ण लाल जैन को नमन करते हुये उनके पौत्र आकाशदीप जैन का शॉल पटका पहना कर सम्मान करने के साथ ही सेनानी पत्नी प्रेमशीला पाण्डेय का उनके घर जाकर सम्मान कर मौजूद अन्य सेनानियों के परिजनों को सम्मानित करते हुये कहा कि रैली प्रगतिशील भारत के 75 वर्ष और इसके लोगों, संस्कृति,उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास की याद दिलाने के साथ-साथ ‘फिट इंडिया मूवमेंट’ को भी बढ़ावा देती है। बताया की वे असम के शिलांग से चलकर 3000 किलोमीटर की यात्रा साइकिल द्वारा तय कर रहे हैं। इसके साथ ही रास्ते में पढ़ने वाले धार्मिक स्थानों, ऐतिहासिक स्थान तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों को सम्मानित कर रहे हैं। इसके साथ ही युवकों को सेना में भर्ती होने के लिए उत्साहित कर रहे हैं उनका मुख्य उद्देश्य देश की सेवा और उनकी रक्षा करने वालों को सम्मान करना है। मेजर ने इटावा में मिले सम्मान के लिए सेनानी परिजनों का आभार प्रकट किया।