Friday , July 12 2024

स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिक का निर्माण होता है

जनपद में अब तक 125 अपनी वाटिकाओं का हुआ निर्माण

हरदोई
जनपद की कुल आबादी का लगभग 90 प्रतिशत हिस्सा ग्रामीण क्षेत्र में निवास करता है।जहा पर लोगों को प्रकृति के सानिध्य में शान्त वातावरण में बैठने टहलने हेतु कोई उपयुक्त स्थल नहीं होते हैं। इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए जिलाधिकारी,हरदोई अविनाष कुमार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगान्तर्गत/राज्य वित्त आयोग से कन्वर्जन कराकर ग्राम पंचायतों के माध्यम से ग्राम समाज की भूमि पर ग्रामीण जनसंख्या को शहरी सुविधा युक्त पार्क उपलब्ध कराने हेतु अपनी वाटिका विकसित करने के दिशा-निर्देष मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना को दिये गये।
मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में रिक्त सार्वजनकि भूमि को चिन्हित कराकर, उन पर 125 ’’अपनी वाटिकाओं’’ को विकसित कराया गया है। इन वाटिकाओं में मुख्यतः फूलदार, फलदार, छायादार एवं औषधीय पौधों का रोपण किया गया है। अपनी वाटिकाओं में टहलने हेतु इण्टरलांकिग पाथ-वे, बैठने हेतु बेन्च, पौधों की सिंचाई हेतु सबमर्षिबुल पम्प एवं पौधें की सुरक्षा हेतु तारफेषिंग एवं गेट का निर्माण कराया गया है।
अपनी वाटिकाओं के निर्माण से जहा एक ओर ग्रामीण क्षेत्रों में हरित पट्टी का विकास हुआ है, वही ग्रामीण जनता को स्वस्थ्य एवं स्वच्छ प्राकृतिक वातावरण उपलब्ध हो रहा है तथा अपनी वाटिकाओं के निर्माण से ग्रामीण क्षेत्रों में जनसामान्य को शहरी सुविधा युक्त पार्क के रूप में एक विकसित स्थल की सुविधा प्राप्त हुई है। जिसका उपयोग जनसमान्य द्वारा किया जा रहा है। तथा लोगों में समरसता की भावना का विकास हो रहा है। इसी परिप्रेक्ष्य में अब तक जिले की विकास खण्ड अहरोरी में09,
बावन में 07,बेहन्दर में 10,भरावन में10, भरखनी में08,
बिलग्राम में05,
हरियावां में09,
हरपालपुर में01,
कछौना में 05,
कोथवां में 06,
माधौगंज में 04,
मल्लावां में 03,
पिहानी में 08,साण्डी में 06,सण्डीला में 09,
शाहाबाद में 04,सुरसा में 04,टड़ियावां में12,एवं टोडरपुर में 05 कुल 125 वाटिकाओं का निर्माण कराया जा चुका है।