Saturday , April 13 2024

मथुरा मे चंद्र पैसों की खातिर गर्भवती महिलाओं की जिंदगी से करती है खिलवाड़

मथुरा से अजय ठाकुर

मामला गोवर्धन क्षेत्र के अंतर्गत गांव दोसेरस गांव की आशा का है जोकि चंद पैसों की खातिर गर्भवती महिलाओं की जिंदगी से खिलवाड़ करती हुई नजर आती है गर्भवती महिलाओं को सामुदायिक केंद्र गोवर्धन ले जाने के बजाय उनको पशु पैठ के पास बने एक घर मैं ले जाकर डिलीवरी करवाती है हम आपको बताते चलें गांव में सरकारी योजना के तहत नियुक्त की गई आशाओं का कार्य गर्भवती महिलाओं की समय-समय पर टेस्टिंग कराना एवं पौष्टिक आहार उपलब्ध कराना एवं समय आने पर उनकी डिलीवरी कराने के लिए सामुदायिक केंद्र तक पहुंचाना होती है मगर दोसेरस मैं नियुक्त आशा पद पर आशा शर्मा नामक महिला व्यक्तिगत स्वास्थ्य के लिए निजी घर नुमा हॉस्पिटल में पहुंचा कर अपना स्वार्थ सीधा करती हुई नजर आई जब मीडिया की टीम ने हॉस्पिटल पर पहुंचकर देखा तो इस घर पर ना तो कोई डॉक्टर का बोर्ड लगा था और ना ही कोई हॉस्पिटल जैसी सुविधा अंदर नजर आ रही थी जब मीडिया की टीम में डॉक्टर महिला से बात की तो उसने बताया कि मैं तो यहां दवाई बेचने का कार्य करती हूं अब देखने की बात यह है की विभाग ऐसी आशाओं के साथ क्या कार्रवाई करता है यह महिलाएं अपने स्वार्थ के लिए किसी भी गर्भवती महिला के जीवन के साथ खिलवाड़ करने को तैयार बैठी रहती हैं