Sunday , February 25 2024

औरैया महिला के ऊपर चलती ट्रेन में एसिड डाला

ए,के ,सिंह संवाददाता

औरैया,महिला के ऊपर एसिड अटैक का मामला सामने आया है।महिला ने गावँ के ही तीन लोगों पर तेजाब फेकने का आरोप लगाया है।
महिला के साथ घटना जब घटी जब महिला अपनी ससुराल से अपने मायके फफूँद थाना क्षेत्र के दशहरा इंटरसिटी ट्रेन से आ रही थी अभी अछल्दा के पास गांव के ही तीन लोग ट्रेन में चढ़ आए और महिला के साथ बदसलूकी करते हुए उसके ऊपर तेजाब डाल दिया उसके बाद आरोपी ट्रेन से उतर गए महिला जलन की वजह से परेशान हो गई वही महिला ने आरोपियों की पहचान कर ली है आरोपियों का विवाद महिला के भाई से हुआ था जिसने महिला का भाई जेल भेजा गया था महिला अपने भाई की पैरवी कर रही थी जिसको लेकर विपक्षी गणों ने घटना को अंजाम दिया।

महिला ने बताया हमारे ऊपर तेजाब डाला गया है महिला ने बताया हम अपने घर भाई के लिए आती जाती हैं जिसको लेकर गांव के ही पूरन सिंह नीरज कुमार सर्वेश कुमार 3 लोगों ने मेरे ऊपर पीछे से तेजाब डाल दिया जिससे महिला बताया मेरे भाई को झूठा फंसाया गया है वह जेल में है झूठ फंसा दिया है इन लोगों के कोई आंख वगैरह नहीं फूटी हुई थी जिसके हम कार्रवाई के लिए आती जाती हैं मेरा भाई एक महीना पहले जेल भेज दिया गया था छोटा भाई जो गांव में डीलर है डीलर होने की वजह से इन लोगों को जलन हुआ करती थी इसको गल्ला नहीं बाटने देगे इसको लेकर डीलर नहीं रहने देंगे इस बात को लेकर यह लोग हमारे घर वालो को परेशान किया करते थे तुम यहां आना जाना बंद कर दो जब महिला के ऊपर तेजाब डाला गया तो महिला का कहना है उसमें अछल्दा में स्टेशन पर से वहीं पर वह लोग गाड़ी में चढ़े हुए थे महिला ने पूछा अछल्दा ना उतरकर पाता उतर जाएंगे तब तक वह लोग बहस करने लगे मेरे साथ अभद्रता भी करने लगे उन लोगों ने मेरे धक्का मारा मेरे ऊपर तेजाब डाल दिया तो हम पागल से हो गए मेरे जलन पड़ने लगी मैंने पुलिस को फोन किया तो दरोगा जी ने फोन नहीं उठाया पाता चौकी में पहले भी महिला ने शिकायत की थी कि यह लोग मुझे परेशान करते हैं इस बात को लेकर पाता चौकी पर कंप्लेंट की थी बराबर धमकी दिया करते थे हमारे पिताजी हम लोगों को डर की वजह से निकलने नहीं देते थे महिला ने आरोप लगाया अगर पुलिस से न्याय मिलता तो आज मेरा भाई बेगुनाह जेल नहीं जाता और हम भी यहां पर नहीं होते

वही पूरे मामले को पुलिस अधीक्षक ने गंभीरता से लेकर तत्काल महिला को उपचार के लिए महिला जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

पुलिस अधीक्षक ने घटना की जानकरी देते हुए बताया।
थाना क्षेत्र फफूंद के ग्राम दशहरा की एक महिला आज प्रातः 10:00 बजे इंटरसिटी इटावा अपने ससुराल से वापस आ रही थी जब वह ट्रेन में यात्रा कर रही थी उस दौरान गांव दशहरा की रहने वाले सर्वेश उनके साथ ही ट्रेन में पाकर महिला के साथ महिला द्वारा बताया गया ज्वलनशील पदार्थ फेंक कर ट्रेन से उतर कर चले गए महिला जब अपनी सीट पर बैठी तो जलन महसूस हुई तो उनको यह ज्ञात हुआ जो पदार्थ है उससे उसे बर्निंग हो गई महिला का जो भाई है उनका और सर्वेश का पहली विवाद हुआ था जिसमें 326 आईपीसी के अंतर्गत महिला के भाई जेल भेजा गया था महिला के द्वारा यह सूचना दी गई थी ट्रेन के अंदर उसके साथ इस तरीके से घटना की गई तत्काल उसने कार्रवाई करते हुए महिला को प्राथमिक उपचार के लिए एक महिला कांस्टेबल ,एस आई के साथ अस्पताल भेजा गया अस्पताल में उनकी हालत स्थिर है और वहां पर उपचार किया जा रहा है महिला के परिवारी जनों द्वारा जो तहरीर दी गई है थाना फफूंद में अभियोग पंजीकृत किया जा रहा है जो आरोपी हैं उनकी गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित कर दी गई हैं अग्रिम विधिक कार्रवाई की जा रही है