Friday , April 19 2024

उन्नाव 24 अगस्त को जनपद के चयनित परीक्षा केंद्रों पर होगी पी0ई0टी0 परीक्ष

अफवाह फैलाने वाले असामाजिक तत्वों पर भी रहेगी पैनी नजर:

जिलाधिकारी ने समस्त स्टैटिक मजिस्टेट/सेक्टर मजिस्टेट को दिये सारी व्यवस्थायें दुरूस्त कराये जाने के निर्देश:

24 के गुणांक में ही सुनिश्चित करें परीक्षार्थियों का कक्ष में बैठना:
प्रमोद अवस्थी

जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार की अध्यक्षता में आज विकास भवन सभागार में प्रदेश के समस्त जनपदों में 24 अगस्त 2021 को आयोजित होने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा 2021 को सकुशल व निर्विघ्न ढ़ंग से सम्पन्न कराये जाने के क्रम में जनपद में परीक्षा कराये जाने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों एवं कर्मिंकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। पी0ई0टी0 परीक्षा को लेकर जनपद की तैयारियों के संबंध में संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर जिलाधिकारी ने आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा किसी भी परीक्षार्थी को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े, कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र में मोबाइल, घड़ी, ए0टी0एम0कार्ड, किसी भी तरह की डिवाइस (विद्युत उपकरण), चेन, अंगूठी, लाॅकेट इत्यादि उपकरण न लेकर जाएं। समस्त क्रेन्द्र व्यवस्थापक परीक्षा केन्द्रों में दीवार घड़ी अवश्य लगवा लें, जिससे की परीक्षार्थियों को समय के बारे में सही जानकारी प्राप्त होती रहे। चूंकि परीक्षार्थियों को परीक्षा कक्ष में घड़ी आदि उपकरण ले जाना वर्जित रहेगा। सेनिटाईजर की छोटी सीसी अनिवार्य रहेगी। किसी भी प्रकार की औपचारिता बर्दाशत नही की जायेगी। सभी कार्मिक सही तरीके से परीक्षा सम्पन्न कराना सुनिश्चित करे।
जिलाधिकारी ने कहा यह बहुत ही महत्वपूर्ण परीक्षा है, सभी स्टैटिक मजिस्ट्रेट/सेक्टर मजिस्ट्रेट यह सुनिश्चित कर लंे कि परीक्षा की सारी तैयारियां गुणवत्तापूर्वक हों, प्रत्येक कक्ष में 24 के गुणंाक में ही विद्यार्थियों को बैठाला जाए। प्रश्न पत्रों की शील्ड पैक परीक्षा कक्ष में ही सी0सी0टी0वी0 की निगरानी में निर्धारित समय पर खुलवाना सुनिश्चित करेंगे व परीक्षा समाप्त होने के उपरान्त परीक्षा कक्ष में ही शील्ड पैक कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा मा0 शासन के ‘‘मिनट टू मिनट’’ प्रोग्राम का गहनता पूर्वक अध्यन कर ही कार्य करें। समस्त परीक्षा केंद्र प्रभारी इस बात को सुनिश्चित कर लें कि समस्त परीक्षा कक्षों पर अपनी पैनी नजर रखें, परीक्षा को स्वतंत्र निष्पक्ष पारदर्शी सकुशल संपन्न कराए जाने के लिए टीम भावना से सभी लोग कार्य करें। समस्त परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त मात्रा में विद्युत व्यवस्था, पानी व्यवस्था सुचारू रूप से रहनी चाहिए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी ने सम्बन्धितों को निर्देश दिए असामाजिक तत्वों पर पर भी पैनी नजर बनाए रखें, जनपद में एल0आई0यू0 एस0टी0एफ0 आदि टीम सक्रिय रहकर कार्य करें, जो भी व्यक्ति परीक्षा में किसी और की जगह परीक्षा देने आते हैं ऐसे असामाजिक तत्वों पर धरपकड़ अभियान चलाया जाए और सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर कार्रवाई की जाए।
जिलाधिकारी ने कहा समस्त केन्द्र व्यवस्थापक अपने हस्ताक्षर से परीक्षा में लगाये गये अधिकारियों/कार्मिकों हेतु पहचान पत्र अवश्य जारी करें। परीक्षा में ड्यूटी करने हेतु चयनित समस्त अधिकारी/कार्मिक के पास उनका पहचान पत्र अवश्य होना चाहिये। कोई भी बिना पहचान पत्र के परीक्षा कक्ष में नहीं रहना चाहिये।
सभी स्टैटिक मजिस्ट्रेट आवंटित परीक्षा केंद्र की भौगोलिक स्थिति की जानकारी परीक्षा दिवस से कम से कम 01 दिन पूर्व अवश्य कर लें। और परीक्षा दिवस पर परीक्षा प्रारंभ होने से पूर्व कम से कम 02 घंटा पहले पहुंच जाएं। स्टेटिक मजिस्ट्रेट परीक्षा केंद्र पर स्थानीय प्रशासन व आयोग के प्रतिनिधि के रुप में संपूर्ण अवधि उपस्थित रहकर केंद्र अधीक्षक व परीक्षा संचालन व परीक्षा सुरक्षा संबंधित कार्यदाई संस्था के सहयोग से निर्मित परीक्षा संपन्न कराएंगे। स्टेटिक मजिस्ट्रेट परीक्षा केंद्र के मुख्य प्रवेश द्वार पर यह सुनिश्चित करेंगे कि परीक्षा सुरक्षा संबंधी कार्रवाई संस्था द्वारा विद्यार्थियों की जांच कर अभ्यार्थियों को केंद्र के अंदर भेजा जाए, सभी स्टैटिक मजिस्ट्रेट परीक्षा कक्षों में सी0सी0टी0वी0 लगाए जाने के निरीक्षण कर लंे। परीक्षा केंद्र पर पुरुष एवं महिला शौचालय, पेयजल, कोविड-19 का अनुपालन अभ्यार्थियों के मोबाइल बैग इत्यादि जमा करने की व्यवस्था का निरीक्षण करेंगे। इस महत्वपूर्ण परीक्षा को निर्विरोध संपन्न कराना है। प्रश्न पत्र/उत्तर पुस्तिका इत्यादि परीक्षा सामग्री खुली अवस्था में कक्षा से बाहर न ले जाये जाएं। समस्त स्टैटिक मजिस्ट्रेट परीक्षा सम्बन्धी दस्तावेजों की पैकिंग प्रक्रिया का ध्यान पूर्वक अध्ययन करेंगे एवं तदनुसार परीक्षा केंद्र पर गोपनीय सामग्री की पैकिंग थैली व हस्तांतरण की कार्यवाही संपन्न करेंगे। उन्होंने कहा यह बहुत ही संवेदनशील परीक्षा है इसमें किसी भी स्तर से किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिये। परीक्षा को मा0 आयोग के निर्देशानुसार बहुत ही सकुशल तरीके से सम्पन्न कराये जाने में अपना योगदान दंे।
उक्त कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी दिव्यांशु पटेल, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) राकेश सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी जय सिंह, जिला विकास अधिकारी मनीष कुमार समस्त स्टैटिक मजिस्ट्रेट/सेक्टर मजिस्ट्रेट (परीक्षा में लगाये गये समस्त अधिकारी/कार्मिक) सहित समस्त सम्बन्धित उपस्थित रहे।