Thursday , June 13 2024

 सन टैनिंग को झटपट दूर करने में बेहद फायदेमंद हैं जैतून का तेल

ऑलिव के पेड़ की पत्तियों और फलों से निकले लिक्विड को ऑलिव ऑयल कहा जाता है। इसका इस्तेमाल दवाईयां और खाना बनाने के लिए किया जाता है। ऑलिव ऑयल का बोटेनिकल नाम ओलिया यूरोपा एल है, जो कि ओलियसी फैमिली का है। ऑलिव ऑयल को हार्ट अटैक और स्ट्रोक , ब्रैस्ट कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर, ओवेरियन कैंसर और माइग्रेन आदि से बचाव के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

सन टैनिंग करे कम – जैतून का तेल त्वचा को मॉइस्चराइज़ रखने के साथ ही इसे खूबसूरत भी बना देता है। यह सन टैनिंग को कम करके चेहरे खोई हुई चमक को भी वापस ला देता है। यह प्रभाव ऑलिव ऑयल में पाए जाने वाला फैट व एंटीऑक्सीडेंट की वजह से होता है।

हड्डियां बनाए मजबूत  ऑलिव ऑयल ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी जिसमे शरीर की हड्डियां कमजोर हो जाती है और जल्दी फ्रैक्चर होने का दर रहता है। इस बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों के लिए ऑलिव ऑयल बहुत लाभदायक है। ऑलिव ऑयल शरीर के रोगों को दूर करने के साथ त्वचा की ग्लोइंग भी बढ़ा देता है।

ब्लड प्रेशर करे कंट्रोल – भोजन में यदि ऑलिव ऑयल को शामिल किया जाए तो इससे ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है।

चेहरे की झुर्रियां करे दूर – ऑलिव ऑयल से चेहरे की मालिश करने से चेहरे झुर्रियां दूर हो जाती है। साथ ही चेहरे पर निखार भी आ जाता है। जैतून के तेल को सिर पर लगाने से रूसी की समस्या से भी निजात पाया जा सकता है।