Thursday , June 13 2024

जिद्दी पिम्पल्स के निशान लाख कोशिशों के बाद भी नहीं हो रहे हैं दूर तो आजमाएं ये स्टेप्स

नीम का इस्तेमाल प्राचीन काल से ही विभिन्न प्रकार की जड़ी-बूटी बनाने में किया जा रहा है। स्वास्थ्य को लेकर भी इसके कई तरह के फायदे बताए जाते रहे हैं। नीम के पत्तों में बेहतरीन औषधीय गुण होते हैं। आज भी भारत के कई इलाकों में मानसिक बीमारी को दूर करने के लिए नीम के पत्तों से झाड़ा लगाया जाता है।

अगर दांत का दर्द है, तो इसकी दातून का इस्तेमाल किया जाता है। अगर आपको कोई छूत की बीमारी है, तो नीम के पत्तों पर लिटाया जाता है, क्योंकि यह आपके सिस्टम को साफ कर ऊर्जा से भर देता है। चाहे आप इसकी हरी पत्तियों, सूखी पत्तियों या तेल का सेवन करें, यह हर रूप में फायदेमंद होता है।

एप्‍पल साइडर विनेगर और नीम का तेल

सामग्री

  • 2 बड़ा चम्‍मच एप्‍पल साइडर विनेगर
  • 1 बड़ा चम्‍मच नीम का तेल

विधि

  • सबसे पहले स्‍कैल्‍प पर एप्‍पल साइडर विनेगर लगाएं और 30 मिनट बाद बालों को नॉर्मल पानी से वॉश कर लें।
  • इसके बाद जब बालों से पानी टपकना बंद हो जाए तो बालों में नीम का तेल लगाएं। आप नीम का तेल बालों में डायरेक्‍ट भी लगा सकती हैं या फिर आप इसे अन्‍य किसी तेल जैसे- नारियल का तेल, बादाम का तेल या ऑलिव ऑयल के साथ मिक्‍स करके भी लगा सकती हैं।
  • इसके बाद बालों को 15 मिनट के लिए टॉवल से बांध लें। आप नीम के तेल को बालों में रात भर के लिए लगा भी छोड़ सकती हैं या फिर एक घंटे बाद बालों को वॉश भी कर सकती हैं।
  • यदि आप ऐसा हफ्ते में 2 बार करती हैं तो आपके बालों में अनोखी शाइन आ जाएगी।