Friday , July 12 2024

औरैया,पांच दिन व्यतीत होने के बाबजूद हमलावरों की नही हुई गिरफ्तारी

 

ए, के, सिंह संवाददाता जनपद औरैया

कंचौसी औरैय
नगर में पत्रकार ब्रजेश बाथम के बेटे पर हुए कातिलाना हमले के बाद आक्रोश व्याप्त है, कस्बेवासियों का कहना है,कि पत्रकार के बेटे मनीष बाथम के ऊपर हुए प्राणघातक हमले में अभी तक औरैया दिवियापुर पुलिस अभियुक्तों को गिरफ्तार नही कर पाई,रक्षाबंधन के त्यौहार के दिन इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया गया कि कस्बे की जनता और परिवारीजन भुला नही पा रहे है,पत्रकार के पुत्र को जो भी देखता है,तो पूरा शरीर चोटिल कर दिया गया,शरीर के प्रत्येक अंगों को घायल किया गया अभी भी दर्द से कराह रहा है,शायद अगर दलदल से निकाला न जाता तो मौत भी हो सकती है,हमलावरों के इतने हौसले बुलंद है,कि चारो तरफ कस्बे में खुलेआम घूम रहे हैं, जिससे कस्बे के व्यापारियों में भी भय व्याप्त हो चुका है,कस्बे के लोग पुलिस पर सवालिया निशान लगा रहे है,कि आखिर हमलावरों को गिरफ्तार करने में पुलिस इतनी देर क्यों कर रही है,पत्रकार परिवार ने बताया कि मेरा परिवार बुरी तरह भयवीत है,हमलावरों द्वारा एस सी एक्ट,संगीन मुकदमो में फंसाये जाने की धमकियां भी मिल रही है,और पूरे परिवार को जान से मारने की धमकियां भी दी जा रही है,कस्बे में इस भीवत्स घटना की चारो तरफ चर्चाएं हो रही है,जनता सवाल कर रही है,कि योगीराज में सभी सुरक्षित रहेंगे,लेकिन पत्रकार के बेटे के साथ जो हादसा हुआ उसमे बेख़ौब हमलावर घूम रहे है,पुलिस हमलावरों को गिरफ्तार करने में विफल सावित हो रही है,पत्रकार परिवार जहाँ पर रह रहा था वह स्थान भयग्रस्त होने की बजह से छोड़ दिया है,घर की प्रत्यक्षदर्शी महिलाओं ने बताया कि अभी तक आंखों के सामने से वह भीवत्स दृश्य हट नही पा रहा है,भगवान का लाख लाख शुक्र कि मेरा बेटा जिंदा बच गया,जान से मारने में कोई कोर कसर नही छोड़ी गई है,पत्रकार के परिवार पर हुए हमले में तमाम पत्रकार संगठनों ने घोर निंदा की है,और शीघ्र ही हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग भी की है,इस संबध में जांच अधिकारी ने बताया कि पत्रकार परिवार से लगातार संपर्क में हूँ,उनकी सुरक्षा हेतु रात्रि और दिन में गश्त बढ़ा दिया गया है,हमलावरों की तलाश जारी है,शीघ्र ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे।