Sunday , February 25 2024

औरैया,आधार कार्ड से से ठगी करने वाले गिरोह के 4 साइबर ठग गिरफ्तार

 

ए, के, सिंह संवाददाता जनपद औरैया
औरैया,कलेक्ट्री रोड आजाद नगर कस्बा व थाना दिबियापुर जनपद औरैया निवासी मुकेश कुमार भारती ने थाना दिबियापुर में 20.08.2021 को एक लिखित तहरीर दी थी कि वह जनसेवा केन्द्र में अपना आधार कार्ड अपडेट कराने गया था तभी से उसके खाते से लगातार पैसे निकल रहे है और उसके लगभग Rs.4,75000 उसके खाते से निकल गये है। उक्त सूचना के आधार पर थाना दिबियापुर में मु.अ.स. 432/321 धारा 420 भादवि व 66सी आई.टी.एक्ट के अंतर्गत अज्ञात के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु थाना दिबियापुर पुलिस टीम व सर्विलांस एवं साइबर सेल की टीमें गठित कर विवेचना प्रारंभ की गयी।

कि दिनांक 26.27/08.2021 की रात्रि में मुखबिर की सूचना पर प्लास्टिक सिटी चौकी के आगे बाउन्ड्रीवाल के अन्दर कुछ आधार कार्ड से पैसा निकालने वाले गैंग के खड़े होने की सूचना पर पुलिस टीमों द्वारा एक बुलेरो नं. यू.पी.78जी.पी.5752 को घेर कर उसमें बैठे गिरोह के 04 व्यक्तियों को पकड़ लिया तथा गैंग का सरगना अनुपम अधेंरे का फायदा उठाकर मौके से भागने में सफल रहा। पकड़े गये व्यक्तियों ने पूछताछ में शुभम सिंह पुत्र भूपेन्द्र सिंह निवासी म.नं. के-219 विश्व बैंक बर्रा थाना बर्रा जनपद कानपुर नगर, सौरभ सिंह पुत्र भूपेन्द्र सिंह निवासीउपरोक्त, सीबू कुमार पुत्र ओमप्रकाश निवासी ग्राम सीतापुर थाना सजेती जनपद कानपुर नगर, सुमित कुमार पुत्र राजेन्द्र निवासी ग्राम मछैला रिवना थाना घाटमपुर जनपद कानपुर नगर हाल पता एफएफएल ब्लाक 37ए सहभागिता आवास कालौनी श्यामपुर बुहरिया कल्ला वाला जयपुर राजस्थान बताये, साथ ही अभियुक्त सीबू ने यह भी बताया कि व सरकार की वेबसाइट(IGRSUP.GOV.IN) से लोगों की जमीन व मकान की रजिस्ट्री से आधार कार्ड, बैंक अकाउंट डिटेल, अंगुष्ठ छाप व अन्य KYC डाउनलोड करके उनसे उनके फिंगर प्रिंट प्राप्त व कॉपी करके पॉलीमर प्लास्टिक सीट पर उसकी प्रिंट आउट करके कास्टिक मशीन से प्लास्टिक में फिंगर प्रिंट ढाल कर कूट रचित बायोमेट्रिक आई.डी. तैयार कर। आधार पेमेंट इनेबल सिस्टम के माध्यम से आईडी लॉगिन कर रजिस्टर कराकर कूट रचित तैयार किये गये आधार कार्ड के फिंगर प्रिंट के माध्यम से लोगों के खातों से पे वर्ड व अन्य एप्लीकेशन के माध्यम से रुपया निकालना व आधार कार्ड में उपभोगक्ताओं का संरक्षित रेटिना की कूट रचना तैयार करते है। पुलिस ने इन्हें धारा 419,420,467,468,471 भादवि व 66सी आई.टी.एक्ट के अन्तर्गत गिरफ्तार कर विधिक कार्यवाही की जी रही है।गिरफ्तार अभियुक्तों में अभियुक्त सौरभ सिंह व शुभम सिंह को वर्ष 2017 में एस.टी.एफ. यूपी द्वारा थाना सरोजनी नगर लखनऊ से पूर्व में साइबर फ्रॉड में जेल भेजा जा चुका है। जबकि अभियुक्त अनुपम पुत्र प्रमोद कुमार निवासी ग्राम मकान नं.148 ग्राम निमिधा पोस्ट कोटरा मकरंदपुर थाना घाटमपुर जनपद कानपुर नगर फरार होने में कामयाब रहा, पुलिस ने इनके पास से दो अदद लैपटॉप मय चार्जर, दो अदद बायोमेट्रिक थंब स्कैनर मशीन, 136 कूटरचित पालीमार प्लास्टिक शीट पेपर पर अंगुष्ठ छाप व 25 अदद प्लास्टिक में ढाले गये कूट रचित अंगुष्ठ छाप, 05 अदद मोबाइल फोन, एक अदद पेन डाईव ग्राफिक डिजाइनर, दो अदद केन द्रव्य पदार्थ इंक व थिनर, एक अदद पिठठू बैग, पेन कार्ड, वोटर आई0डी कार्ड कूट रचित व पर्स, 05 अदद रजिस्ट्री की छाया प्रति बरामद किये हैं,