Friday , April 19 2024

खेल जगत में दौड़ी शोक की लहर, भारत के इस महान बैडमिंटन खिलाड़ी का अकस्मित हुआ निधन

भारत के पूर्व महान बैडमिंटन खिलाड़ी नंदू नाटेकर का निधन हो गया है। उन्होंने 88 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कहा। नंदू भारत के पहले बैडमिंटन खिलाड़ी थे जिन्होंने देश के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीता था। यह उपलब्धि उन्होंने साल 1956 में हासिल की थी। उनके निधन के बाद खेल जगत में शोक की लहर दौड़ गई।

वहीं उनके बेटे गौरव ने बताया कि वह पिछले तीन महीने से बीमार थे, जिसके बाद बीमारी के कारण ही उनका निधन हुआ, हम उस वक्त उनके साथ ही थे। महाराष्ट्र के सांगली में जन्में नाटेकर अपने समय में सबसे लोकप्रिय खिलाड़ियों में से एक थे, साथ ही वह दूनिया के पूर्व नंबर तीन के खिलाड़ी थे।

पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी नंदू नाटेकर के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने शोक जताया है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ” श्री नंदू नाटेकर का भारत के खेल इतिहास में एक अहम स्थान है। वो एक बेहतरीन बैडमिंटन खिलाड़ी और एक महान गुरु थे, उनकी सफलता नए एथलीटों को प्रेरित करती रहती है। उनके निधन से दुखी हूं, इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और दोस्तों के साथ हैं। ओम शांति!”

अपने बैडमिंटन करियर में नंदू नाटेकर ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल तक पहुंचे थे। इसके अलावा उन्होंने 6 बार नेशनल चैंपियनशिप का खिताब जीता था। साल 1961 में उन्हें अर्जुन पुरस्कार दिया गया। यह अवॉर्ड पाने वाले वह भारत के पहले बैडमिेंटन खिलाड़ी थे।