Thursday , June 13 2024

सैफई आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के 2019 बैच के मेडिकल छात्र-छात्राओं द्वारा शिक्षक दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया

सुबोध पाठक

जसवन्तनगर।सैफई उ0प्र0 आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के 2019 बैच के मेडिकल छात्र-छात्राओं द्वारा शिक्षक दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया
मुख्य कार्यक्रमों का उद्घाटन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव ने दीप प्रज्वलित कर किया। मेडिकल स्टूडेन्ट्स ने इस अवसर पर फैकेल्टी मेम्बरस् को प्रतीक चिन्ह देकर आभार जताया। मुख्य कार्यक्रमों में स्टूडेन्ट्स द्वारा रंगोली बनाना, विशेष रूप से डा0 सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन पर आधारित वाद-विवाद प्रतियोगिता, मंचन, स्लाइड शो तथा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रमुख रहे।
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव ने कहा कि शिक्षक अपने ज्ञान को अपने विद्यार्थियों में बॉटकर समाज को प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रूप से लाभान्वित करता है। एक योग्य शिक्षक हमेशा समाज को सकारात्मक दिशा देने की कोशिश करता है। शिक्षक शिक्षा देने के साथ अपने विद्यार्थियों के लिए पथ-प्रदर्शक, दार्शनिक तथा शुभ-चिन्तक होता है। इस दौरान प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव ने अपने विद्यार्थी जीवन तथा शिक्षक जीवन के अनुभवों को मेडिकल स्टूडेन्ट्स के साथ बॉटा।
कुलसचिव सुरेश चन्द्र शर्मा ने शिक्षक को समाज का सबसे सम्मानित व्यक्ति बताया। इस दौरान उन्होंने प्राचीन काल की गुरू शिष्य परंपरा का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि एक अच्छा शिक्षक हमेशा अपने विद्यार्थियों की भलाई के लिए प्रयासरत् रहता है। संकाय अध्यक्ष (छात्र कल्याण प्रकोष्ठ) डा0 आलोक कुमार दीक्षित ने सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि राधाकृष्णन जीवन पर्यन्त एक उच्च व्यक्तित्व के धनी व्यक्ति रहे। उन्होंने राष्ट्र की सेवा एक अच्छे शिक्षाविद् राजनेता, दार्शनिक तथा समाज सुधारक के रूप में की।
कार्यवाहक चिकित्सा अधीक्षक डा0 सुनील कुमार ने कहा कि विद्यार्थी को अपने शिक्षकों का आदर एवं सम्मान जीवन पर्यन्त करना चाहिए। स्टूडेन्ट्स को अपनी समस्याओं के सम्बन्ध में हमेशा खुले दिल से शिक्षक से बात करनी चाहिए। एक शिक्षक हमेशा चाहता है कि उसके छात्र सफलता कि बुलंदियों पर पहुॅचे।
इस अवसर पर संकाय अध्यक्ष (छात्र कल्याण प्रकोष्ठ) डा0 आलोक कुमार दीक्षित, कुलसचिव सुरेश चन्द्र शर्मा, कार्यवाहक चिकित्सा अधीक्षक डा0 सुनील कुमार, फैकेल्टी मेम्बर, चिकित्सा अधिकारी, मेडिकल स्टूडेन्ट्स आदि उपस्थित रहे।