Tuesday , May 28 2024

औरैया,2022 चुनाव में राजनैतिक दल अपने चुनावी घोषणा पत्र में लोक तन्त्र के चौथे स्तम्भ को समानता का अधिकार दिलाने का उल्लेख करें – सतेन्द्र सेंगर “राष्ट्रीय अध्यक्ष” मीडिया अधिकार मंच भारत

 

ए,के,सिंह संवाददाता जनपद औरैया

औरैया,मीडिया अधिकार मंच भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष सतेन्द्र सेंगर नें कहा कि आगामी बिधानसभा चुनाव 2022 की जोरों से तैयारियां शुरू हो गयी है, इसी क्रम में सतेन्द्र सेंगर नें पत्रकारों सहित जनता जनार्दन को बताते हुये कहा हैकि देश जब से आजाद हुआ है तब से लेकर आजतक एक निशुल्क समाज सेवी जिसे हम सबने अपना वोट देकर अपना नेता/जनप्रतिनिधि चुनते आ रहे है वहीं निशुल्क समाज सेवी नेता/जनप्रतिनिधि जोकि सरकारें बनाकर अपने निजी स्वार्थ के लिये संविधानिक नियमावली बनाकर आधुनिक सुबिधाओं के साथ आकर्षक पेंशन लेने का प्रवधान बना लिया, वहीं पर दूसरी ओर एक निशुल्क समाज सेवी लोक तन्त्र का चौथा स्तम्भ कहे जाने वाला मीडिया कर्मी जोकि लोक तन्त्र के तीनों स्तम्भों पर अपनी कलम और कैमरा के माध्यम जनता एवं साशन प्रशासन की आवाज़ को जनजन तक पहुंचाकर लोगों के बीच निशुल्क कार्य करता है आ रहा है, मीडिया को लोक तन्त्र में उसका अधिकार न मिलने से आज अधिकतर मीडिया बिकाऊ, गोदी, यहाँ तक दलाल कह लोक तन्त्र के चौथे स्तम्भ को अपमानित किया जा रहा है, मीडिया यदि किसी सत्ता पक्ष या शासन प्रशासन की हकीकत दिखाने का प्रयास करता है तो उसे या झूंठे मुकदमे लगाकर जेल भेजनें का कार्य किया जाता है या फिर उसकी हत्या कर दी जाती है, सतेन्द्र सेंगर नें लोक तन्त्र के चौथे स्तम्भ को मजबूत बनाने के लिये उ.प्र. में आगामी बिधानसभा चुनाव के सभी राजनैतिक पार्टियों से कहा हैकि यदि सरकार बनानी हैकि तो अपने अपने चुनावी घोषणा पत्र में लोक तन्त्र के चौथे स्तम्भ मीडिया को भी लोक तन्त्र के तीनों स्तम्भों के समान अधिकार दिलाये जाने की लिखें मीडिया अकर्मियों को भी जनप्रतिनिधियों जैसी सुविधायें दिये जाने के लिये संविधान अधिकार बनाये जाये, ताकि मीडिया कर्मी आर्थिक एवं मानसिक रूप से आजाद हो और बेवाकी से निष्पक्ष, निर्भीकता पूर्ण खबरों का प्रकाशन कर प्रदेश में वास्तविक बिकास कराने में अपनी अहम भूमिका निभाए