Thursday , June 13 2024

औरैया,अच्छी फसल के लिए उचित मात्रा में करे रसायनों का प्रयोग

 

ए, के, सिंह संवाददाता जनपद औरैय

औरैया _जनपद के किसानों को सूचित किया जाता है कि धान की फसल में लगने वाले सामयिक कीट रोग से बचाव हेतु निम्न सुझाव एवं संस्तुतियों को अपनाना चाहिए। धान फसल में होने वाले कीट जिसमें जड़सुड़ी, पत्ती लपेटक, तनाभेदक आदि कीटों के बचाव हेतु इमिडाक्लोप्रिड 17.8 प्रतिशत 50 मिली मात्रा को 200 लीटर पानी में घोल बनाकर छिड़काव करें तथा झोका रोग, शीत ब्लास्ट रोग, जीवाणु पत्ती झुलसा के नियंत्रण हेतु कॉपर ऑक्सिक्लोराइड 50 प्रतिशत की 1.0 किलोग्राम मात्रा प्रति एकड़ अथवा हेक्सागोनल 4 प्रतिशत की 400 मिली प्रति एकड़ को 200 लीटर पानी में घोल बनाकर छिड़काव करें एवं खेला रोग के नियंत्रण हेतु 5 किलो ग्राम जिंक सल्फेट को 20 किलोग्राम यूरिया अथवा 2.50 किलोग्राम बुझे हुए चूने को प्रति हेक्टेयर की दर से 1000 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करना चाहिए। अधिक जानकारी हेतु जिला कृषि रक्षा अधिकारी औरैया एवं अपने विकासखंड की कृषि रक्षा इकाई पर संपर्क करें।