Tuesday , May 28 2024

फिरोजाबाद निलंबित सफाई कर्मी की बीमार पुत्री ने इलाज के लिये पैसे न होने के कारण तोड़ा दम

नरेन्द्र वर्मा
फिरोजाबाद थाना उत्तर के मोहल्ला दम्मा मल नगर मैं शुक्रवार की प्रात है निलंबित सफाई कर्मी कि बीमार पुत्री ने धन अभाव के कारण दम तोड़ दिया पीड़ित पिता अपनी पुत्री के शव को लेकर दबरई स्थित विकास भवन पर पहुंच गया और सब को लेकर धरने पर बैठ गया एक बच्चे की जान चली गई

थाना उत्तर के मोहल्ला दम्मा मल नगर निवासी सुजीत कुमार पंचायत राज विभाग में सफाई कर्मी के रूप में तैनात है उसे 9 माह पूर्व निलंबित कर दिया था निलंबन के बाद उसे विभाग ने गुजारा भत्ता भी नहीं दिया जिससे उसकी आर्थिक स्थिति बिगड़ गई उसने गुजारा भत्ता देने के लिए विकास भवन के कई चक्कर लगाए उसने पंचायत राज अधिकारी के अलावा वहां तैनात लिपिक से भी गुजारा भत्ता देने की गुहार की अजीत के अनुसार बड़ी मुश्किल से एक माह का गुजारा भत्ता दे दिया गया इसके बाद से फूटी कौड़ी भी नहीं मिली उसके सामने रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो गई इसी दरमियान उसकी 12 वर्षीय पुत्री अप्पू बीमार पड़ गई कई दिनों से बुखार आ रहा था ऐसा पास में ना होने के कारण हुआ उसका इलाज नहीं करा जिसके फलस्वरूप उसकी पुत्री ने दम तोड़ दिया पुत्री की मौत से दुखी सुजीत अपनी पत्नी और बच्चों को साथ लेकर अपने मृत पुत्री का शव लेकर दबरई स्थिति विकास भवन लेकर विकास भवन तक पहुंचा और वह सब को लेकर धरने पर बैठ गया और विलाप करते हुए अधिकारियों से गुजारा भत्ता देने की गुहार करने लगा जिला विकास अधिकारी महेंद्र प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे और पीड़ित सुजीत को गुजारा भत्ता दिलाने का आश्वासन दिया उधर पीड़ित सुजीत का कहना है यदि उसे समय पर गुजारा भत्ता मिल रहा होता तो आज उसकी पुत्री की जान नहीं जाती आर्थिक तंगी के चलते उसने अपनी पुत्री को हमेशा हमेशा के लिए खो दिया है