Friday , March 1 2024

Tokyo Olympics: इतिहास रचने से चूक गई मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन, सेमीफाइनल में मिली करारी हार

मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में इतिहास रचने से चूक गईं. लवलीना को 69 किलोवर्ग के सेमीफाइनल में तुर्की की मौजूदा विश्व चैंपियन बुसेनाज सुरमेनेली (Lovlina Borgohain vs Busenaz Surmeneli) ने 5-0 से हराया.

लवलीना को अब ब्रॉन्ज मेडल से ही संतोष करना होगा.23 वर्षीय लवलीना बोरगोहेन के लिए वर्ल्ड चैम्पियन तुर्की की सुरमेनेली बुसेनज के साथ ये मुकाबला आसान नहीं था.

अपनी ख्याति के ही अनुसार सुरमेनेली बुसेनज इस मुकाबलें में लवलीना पर शुरुआत से ही हावी रहीं और पहला राउंड वह 0-5 से जीत गई. पांचों जजों ने बुसेनाज सुरमेनेली को 10-10 अंक दिए, जबकि लवलीना बोरगोहेन को 9-9 अंक मिले.

असम की 23 वर्षीय लवलीना बॉक्सिंग में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली तीसरी भारतीय खिलाड़ी हैं. लवलीना की हार के साथ ही बॉक्सिंग में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo 2020) में भारत की तरफ से मुक्केबाजी में सिर्फ लवलीना ही पदक जीतने में कामयाब रहीं.