Thursday , June 13 2024

महिलाओं से सम्बंधित इन 50 प्रतिशत बिमारियों को जड़ से खत्म करेगा काबुली चना

आज के समय में करीब 50 प्रतिशत बीमारिया महिलाओं में ही होती है क्योंकि महिलाएं अपने परिवार और दफ्तर के काम में इतनी व्यस्त हो जाती है कि अपने स्वास्थ्य का उचित प्रकार से ख्याल नही रख पाती है।इसलिए आज हम आपको एक ऐसे आहार के बारे में बता रहे है जिसे छोला या को काबुली चना भी कहा जाता है।छोलो का सेवन महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए कई प्रकार से लाभकारी होता है।

छोलों में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और फाइबर मौजूद रहता है। छोलों में मौजूद फाइटोन्‍यूट्रिएंट्स महिलाओं की सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है। यह महिलाओं के हार्मोन्स संबंधी परेशानियो को दूर करने में मदद करता है और इनको नियंत्रित भी रखता है।

प्रतिदिन छोलो का सेवन करने से महिलाओं में स्‍तन कैंसर का खतरा कम होता है। इसके अलावा छोलों में पाए जाने वाले फोलेट तत्व महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान काफी मदद करता है।महिलाओं में बढ़ते ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए छोलो का सेवन जरूरी है।

इससे उनका हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है जिससे हृदय संबंधी बीमारिया शरीर से दूर रहती है।काबुली चने में पाए जाने वाले पोटेशियम और मैग्‍नीशियम शरीर के बढ़ते ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने में काफी मदद करता है और प्रतिदिन छोलों का सेवन करने से शरीर का बढ़ता कोलेस्ट्रॉल लेवल भी नियंत्रित बना रहता है

जिससे कि हृदय रोगो के बढ़ने का खतरा कम होता है।इसके अलावा छोलों में पाए जाने वाले फाइबर तत्व से पाचन तंत्र मजबूत होता है और इससे पेट संबंधी संमस्या शरीर से दूर होती है।पेट संबंधी समस्या के दूर होने से शरीर स्वस्थ बना रहता है।