Friday , July 12 2024

इटावा महलई गांव में गोस्वामी तुलसीदास की 524 वीं जयंती का आयोजन

सुवोथ पाठक
मुख्य अतिथि परसूपुरा पशु मेला मालिक राजू पांडे ने कहा कि महाकवि तुलसीदास एक महान हिंदू संत व बड़े ज्ञानी कवि थे। हिंदू चंद्र कैलेंडर के अनुसार तुलसीदास का जन्म श्रावण महीने के शुक्ल पक्ष की ‘सप्तमी’ के दिन हुआ था। महान ग्रंथ श्रीरामचरितमानस के रचयिता गोस्वामी तुलसीदास ने कुल 12 ग्रंथों की रचना की। सबसे अधिक ख्याति उनके द्वारा रचित श्रीरामचरितमानस को मिली ये उन्होंने सरल अवधि भाषा में लिखी। श्रीरामचरितमानस के बाद हनुमान चालीसा उनकी लोकप्रिय रचना है। गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित ग्रंथों में श्रीरामचरितमानस, कवितावली, जानकीमंगल, विनयपत्रिका, गीतावली, हनुमान चालीसा, बरवै रामायण इत्यादि प्रमुख हैं।
ब्राह्मण सभा के पदाधिकारी बंटी वाजपेई, रोहित चौधरी, भाजपा के जिला मंत्री रजत चौधरी, क्षेत्रीय शोध विभाग प्रमुख अभिषेक मिश्रा, एबीबीपी के विभाग संयोजक मृत्युंजय चौधरी, सनातन एकता मंच के प्रदेश अध्यक्ष ऋषिकांत चतुर्वेदी ने भी तुलसीदास के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला। अरविंद दुबे, दीपक दुबे, मानू दुबे, अभि दुबे, मनु, पिंटू मिश्रा, सोनू, विभु, दिव्यांश, ऋषभ, कवि राहुल दुबे उपस्थित रहे।