Sunday , March 3 2024

औरैया,प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं पीएम स्वनिधि योजना के मुख्यमंत्री के संवाद कार्यक्रम का किया गया सजीव प्रसारण

 

ए, के, सिंह संवाददाता जनपद औरैय

औरैया  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा ‘‘हाउसिंग फॉर ऑल लक्ष्य की ओर एक मजबूत कदम’’ के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत 02 लाख 853 लाभार्थियों को 1341.17 करोड़ रूपये का ऑनलाइन हस्तांतरण तथा प्रधानमंत्री आवास योजना(शहरी) एवं पीएम स्वनिधि योजना के लाभार्थियों से संवाद वर्चुअल किया। जनपद में इस कार्यक्रम का सजीव प्रसारण नगर पालिका परिषद औरैया में हुआ, जिसमें उपस्थित जनो द्वारा देखा व सुना गया। साथ ही इस अवसर पर जिलाधिकारी एवं जिला अध्यक्ष भाजपा द्वारा लाभार्थियों को प्रतीक चेक व स्वीकृति पत्र भी इस अवसर पर वितरित किया इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष श्री राम मिश्रा ने कहा कि जरुरतमंदों के लिए संचालित योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए सरकार प्रयासरत है और उद्देश्य है कि 2022 तक सबके पास अपना मकान, अपनी छत हो। उन्होने कहा कि इस योजना के तहत प्राप्त धनराशि का सदुपयोग करें और अपना आवास बनावायें।
जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना अति महत्वाकांक्षी एवं महत्वपूर्ण योजना है। इससे गरीबों, आवास विहीन जरुरतमंद लोगो को अपना छत मिलता है, जिससे वे सुरक्षित रहने के साथ ही जीवन यापन कर सकेगें। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना भी संचालित है, यह रोजगार को आगे बढाने में काफी उपयोगी है। इन योजनाओं का लाभ उठाने की जरुरत है। उन्होने योजनाओं का लाभ लिए जाने के साथ ही जनपद को अग्रणी बनाने में अपना योगदान देने की अपेक्षा सभी से की।
अपर जिलाधिकारी रेखा एस चौहान ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा जनपद के प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत 501 लाभार्थियों को एक क्लिक के माध्यम से आवास की किस्त हस्तांतरित की गई। जनपद में 606 पात्र लाभार्थियों को धनराशि हस्तांतरण हेतु सूडा को प्रेषित कर दिया गया। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अब तक जनपद में 5834 लाभार्थियों को प्रथम किस्त व 5558 लाभार्थियों को द्वितीय किस्त एवं तृतीय किस्त के रूप में 1051 लाभार्थियों को धनराशि का भुगतान किया जा चुका है। पात्र लाभार्थियों में प्रथम किस्त 1431 व द्वितीय किस्त 276 व तृतीय किस्त 4507 लाभार्थियों को भुगतान की कार्यवाही अतिशीघ्र की जा रही है। योजना के अंतर्गत 1718 लाभार्थियों की जांच तहसील स्तर पर प्रचलित है। जांच पूर्ण हो जाने के उपरांत पात्र लाभार्थियों की डीपीआर तैयार कर शासन को प्रेषित की जाएगी। इस दौरान परियोजना अधिकारी डूडा और अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद औरैया मौजूद रहे।