Tuesday , June 18 2024

मैनपुरी में बुखार से शिक्षक पत्नी सहित तीन की मौत

पंकज शाक्य

मैनपुरी- जिला में बुखार से पीड़ित लोगों की लगातार मौत हो रही है। रविवार को शहर के रामलीला मैदान निवासी एक शिक्षक की पत्नी सहित दो महिलाओं की बुखार से मौत हो गई। जिले में बुखार से मरने वालों की संख्या एक महीने में 14 पर पहुंच गई है।
ज्ञात हो कि जिला में बुखार के मरीज लगातार ही बढ़ रहे हैं। सरकारी अस्पतालों के साथ ही प्राइवेट अस्पतालों में मरीजों की भीड़ है। निजी अस्पतालों में मरीजों को बेड नहीं मिल पा रहे हैं। गांव से शुरू हुआ बुखार धीरे-धीरे शहर की तरफ बढ़ रहा है। शहर के मोहल्ला रामलीला निवासी रोशन सिंह प्राथमिक विद्यालय औंछा द्वितीय पर इंचार्ज प्रधानाध्यापक के रूप में कार्यरत हैं। उनकी 35 वर्षीय पत्नी मंजू देवी को पांच दिन से बुखार आ रहा था। परिजन ज्योंती रोड स्थित एक निजी डॉक्टर के यहां उपचार करा रहे थे। रविवार की सुबह उनकी हालत बिगड़ी। तेज बुखार के साथ ही हाथ पैर में दर्द हुआ और आंखों से दिखना बंद हो गया। परिजन उन्हें इटावा एक डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे यहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। नगर पालिका क्षेत्र के गांव उद्दैतपुर अभई निवासी हेतराम सिंह की 80 वर्षीय पत्नी लीलावती को पांच दिन से बुखार आ रहा था। परिजन निजी डॉक्टर के यहां उपचार करा रहे थे। रविवार को हालत बिगड़ने पर परिजन जिला अस्पताल लेकर पहुंचे यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

उद्दैतपुर अभई में लोग दहशत में
गांव उद्दैतपुर अभई में लीलावती की मौत के साथ ही पिछले एक महीने में बुखार से पांचवीं मौत है। गांव में लगभग 20 लोग बुखार की चपेट में हैं। यहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूर्व शिविर लगाकर उपचार दिया गया था।

इनका कहना हैं
बुखार से दो महिलाओं की मौत हुई है इस संबंध में जानकारी नहीं है। टीम भेजकर संबंधित क्षेत्र में जांच कराते हुए पीड़ितों को उपचार दिया जाएगा।- डॉ.पीपी सिंह, सीएमओ मैनपुरी।