Friday , July 12 2024

अहिल्याबाई होल्कर महिला सशक्तिकरण की थीं, पक्षधर: राम गोपाल धनगर

फोटो : मंचासीन मुख्य अतिथि तथा समाज के लोग।
जसवंतनगर(इटावा)। धर्म और समाज की एकता के लिए राष्ट्र  महारानीअहिल्याबाई होल्कर को कभी विस्मृत नहीं कर सकता।
     यह बात मंगलवार को कैस्थ के एक मैरिज होम में धनगर जाग्रति फाउडेशन के तत्वावधान में आयोजित लोकमाता अहिल्याबाई होल्कर की जयंती मे मुख्य अतिथि के रूप में पधारे  वरिष्ठ भाजपा नेता योगेश प्रताप सिंह वघेल ने कही है।     कार्यक्रम का उद्घाटन अहिल्याबाई होल्कर के चित्र पर पुष्प अर्पित और दीप जलाकर मुख्य अतिथि ने किया। उन्हे शत शत नमन  करते कहा कि वह समाज की सदैव प्रेरणा स्रोत रहेंगी। उनके बताए जनहित और कल्याणकारी मार्ग पर चलने का संकल्प लेने की सभी से अपील की।
     इस अवसर पर धनगर समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रोफेसर रामगोपाल धनगर ने  कहा कि अहिल्याबाई  होल्कर आदर्श और नैतिकता की प्रतीक, महिला सशक्तिकरण की प्रबल पक्षधर और धर्म प्रेमी होने के साथ-साथ स्त्रियों को उनका उचित स्थान दिलाने वाली नारी शक्ति की महान  द्योतक थी।  अपने जीवन में उतार-चढ़ाव के अलावा सुशासन लोक कल्याणकारी राज्य और धार्मिक सांस्कृतिक विकास के लिए वह जानी जाती है।
     इस अवसर पर राकेश पाल, राधेश्याम धनगर, रामशरन धनगर, हरिदयाल सिंह, पूरन सिंह, अरविंद प्रताप सिह, धर्मेन्द्र कुमार, विपिन कुमार, रवि प्रकाश, नीरज सिंह, सुरेश चन्द्र, कृष्ण मुरारी धनगर, आदिं उपस्थित रहे । कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व प्रधानाचार्य दाऊ दयाल धनगर  तथा संचालन ब्रजेन्द्र कुमार धनगर ने किया।
फोटो : मंचासीन मुख्य अतिथि तथा समाज के लोग।