Tuesday , May 28 2024

आगरा पिनाहट सीएससी पर बदहाल पड़ी स्वास्थ्यसेवाएं ,ईलाज से लेकर पीने के पानी तक को भटक रहे मरीज

बालकिशन शर्मा

पिनाहट।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर स्वास्थ्य सेवाऐ बदहाल स्थिति में पड़ी हुई हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टर समय से नहीं पहुंच रहे हैं।सरकारी हॉस्पीटल में डेंगू व बुखार के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। मरीजो के परिजनो का आरोप है कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर डेंगू व बुखार से पीड़ित मरीजों के ब्लड की जांच,दवा व इलाज की कोई समुचित व्यवस्था नहीं है ।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आने वाले मरीजों के लिए पीने के पानी की भी कोई व्यवस्था नहीं है ।

जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह करीब 10:30 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर पिनाहट के गांव क्योरी बीच का पुरा निवासी हरिदास ,बसई अरेला के गांव मानिकपुरा निवासी 17 वर्षीय पूजा पुत्री ऑफिसर,करकौली निवासी राज, अर्जुन पुरा निवासी ललिता,नागर निवासी भावना व पूनम तेज बुखार के चलते हॉस्पिटल में भर्ती थी।जो डेंगू की संदिग्ध मरीज थे। पूजा के परिजन राज व रिंकी के अहिराम का आरोप था कि सुबह से तेज बुखार के चलते मरीज कमरे में पड़े हुए हैं। कोई भी डॉक्टर देखने नहीं आया है।और सीएचसी पर ब्लड जांच की कोई सुविधा नहीं है। प्राइवेट लैबो पर जांच करानी पड रही है। सीएचसी पर इलाज की भी समुचित व्यवस्था नहीं है। और दवाएं भी नहीं हैं ।बुखार से पिडित मरीजो को मरने के लिए उनके हाल पर छोड़ दिया है। इसके अलावा पिनाहट क्षेत्र के अनूप पुरा ,हुसैनपुरा ,गुर्जा फ्लू,मिताईली, करकौली ,क्यौरी बीच का पुरा, सुखी का पुरा नगला भरी सहित करीब एक दर्जन गांव में डेंगू के संदिग्ध मरीज हैं। जिन्हें समुचित उपचार नहीं मिल पा रहा है।

पिनाहट सीएचसी पर नहीं है पीने के पानी की कोई व्यवस्था

पिनाहट ।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिनाहट पर लगा फ्रीजर बंद पड़ा हुआ है ।बंद पड़े हुए फ्रीजर में गंदा पानी आ रहा है। जिसमें रेत निकल रहा है ।जिसके चलते ग्रामीण अहिराम का आरोप है कि स्वास्थ्य विभाग की लचर कार्यप्रणाली के चलते सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खुद बीमार पड़ा हुआ है ।यहां पर कोई भी उचित व्यवस्था नहीं है। न ही मरीजों की कोई उचित देखभाल है।

वहीं इस मामले में सीएचसी अधीक्षक डॉ विजय कुमार का कहना है कि जो डेंगू के संदिग्ध मरीज थे ।उन्हें आगरा रेफर कर दिया है । फ्रीजर खराब हो गया है। उसे ठीक कराने के लिए बोल दिया गया है ।