Tuesday , April 16 2024

सिरसागंज में निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर चाक चौबंद व्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुई पीईटी परीक्षा

नरेंद्र वर्मा

सिरसागंज। नगर के निर्धारित कॉलेजों में बनाए गए परीक्षा केंद्रों पर चाक-चौबंद व्यवस्थाओ के बीच प्रारंभिक प्रारंभिक अर्हता पीईटी परीक्षा संपन्न कराई गई, वही एसडीएम द्वारा परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण कर पारदर्शिता से परीक्षा कराए जाने के निर्देश दिए गए।
अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा आयोजित प्रारंभिक अर्हता परीक्षा को लेकर नगर में निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा कराए जाने के लिए 1 दिन पूर्व ही केन्द्र व्यवस्थापकों द्वारा सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई थी। मंगलवार को पीईटी परीक्षा चाक-चौबंद व्यवस्थाओं और कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच संपन्न कराई गई। नगर के एमडी जैन इंटर कॉलेज, गिरधारी इंटर कॉलेज एवं क्षेत्रीय इंटर कॉलेज में बनाए गए परीक्षा केंद्रों पर दो पालियों में आयोजित होने वाली परीक्षा के पहली पाली हेतु परीक्षा केंद्र पर सुबह से ही परीक्षार्थियों का आना शुरू हो गया। धीरे-धीरे परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों की भीड़ एकत्रित हो गई। परीक्षा केंद्र में प्रवेश के दौरान कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा गया वहीं परीक्षार्थियों को चेकिंग के बाद ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया गया सुबह 10 बजे से पहली पाली की परीक्षा कड़े इंतजामों के बीच शुरू हुई। कक्ष निरीक्षकों की कड़ी निगरानी में परीक्षा कराई गई सुरक्षा की दृष्टि से परीक्षा केंद्र के बाहर पुलिस बल तैनात रहा। वहीं एसडीएम नवनीत गोयल ने पर्यवेक्षक के साथ नगर के सभी परीक्षा केंद्रों पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा परीक्षा पूरी पारदर्शिता के साथ कराए जाने हेतु दिशा निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान एसडीएम नवनीत गोयल ने बताया के नगर में बनाए गए परीक्षा केंद्रों पर व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त मिली वहीं परीक्षा को नकल विहीन और पारदर्शिता से कराए जाने के लिए कालेजों द्वारा काफी इंतजाम किए गए थे सीसीटीवी कैमरे की निगरानी परीक्षा संपन्न कराई जा रही थी। परीक्षा केंद्रों पर जानकारी लिए जाने पर बताया गया कि पहली पाली में गिरधारी इंटर कॉलेज में 360, एम डी जैन इंटर कॉलेज में 541 एवं क्षेत्रीय इंटर कॉलेज में 432 परीक्षार्थियों को पीईटी की परीक्षा देनी थी जिनमें तीनों केंद्रों पर कुछ परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे और शेष परीक्षार्थियों द्वारा शांतिपूर्ण तरीके से परीक्षा दी गई।