Saturday , April 13 2024

इटावा *वाशिंग मशीन के अंदर घुसा था घोड़ा पछाड़ साँप,सर्पमित्र डॉ आशीष ने किया सुरक्षित रेस्क्यू*

इटावा *वाशिंग मशीन के अंदर घुसा था घोड़ा पछाड़ साँप,सर्पमित्र डॉ आशीष ने किया सुरक्षित रेस्क्यू*

*(इकदिल थाना के आवासीय परिसर में 5 फ़ीट लम्बा सर्प देख मचा था हड़कम्प)*

*इटावा* । इकदिल थाना परिसर में बने एक भवन में रखी वाशिंग मशीन में एक 5 फुट लम्बा बेहद फुर्तीला विषहीन घोड़ा पछाड़ सर्प (RAT SNAKE) जाकर छिप गया था जो कि सम्भवतः चूहा खाने के लिये ही वहाँ आया था । सर्प के दिखाई देने की सूचना जनपद इटावा के ऑफियोलॉजिस्ट, वन्यजीव विशेषज्ञ व सर्पमित्र के रूप में जनपद में विख्यात डॉ आशीष को कॉन्स्टेबल मनदीप यादव द्वारा मिली । सूचना मिलते ही डॉ आशीष तत्काल ही अपने विशेष उपकरणों के साथ मौके पर पहुंचे और काफी मशक्कत के बाद उस घोड़ा पछाड़ सर्प को सुरक्षित तरीके से काबू में कर बिना नुकसान पहुंचाए ही उसके प्राकृतवास में छोड़ भी दिया। मिशन स्नेक बाइट डेथ फ्री इंडिया के यूपी कोर्डिनेटर व जनपद के सर्पमित्र डॉ आशीष ने बताया कि रैट स्नेक घोड़ा पछाड़ में किसी भी प्रकार का कोई विष ही नही होता है और न ही कोई बड़े दांत होते है इस विषहीन सर्प से किसी को कोई नुकसान भी नही होता है यह तो एक किसान मित्र सर्प मात्र ही है जो चूहों की अनियंत्रित बढ़ने वाली संख्या पर नियंत्रण ही करता है , फिर भी निवेदन है कि, किसी भी अन्य प्रकार के जहरीले सर्प कोबरा, करैत,रसल के दंश से कभी पीड़ित होने पर कृपया तत्काल ही बिना समय गंवाये ही मरीज को तत्काल जिला चिकित्सालय के इमरजेंसी वार्ड ले जाकर एडमिट करायें। क्यों कि, किसी भी जहरीले सर्प दंश का एकमात्र उपचार एंटीवेनम ही है अतः कभी भी सर्पदंश होने पर किसी बाबा द्वारा झाड़ फूंक कराने में कीमती समय व्यर्थ न करें। वन्यजीव विशेषज्ञ डॉ आशीष ने बताया कि, धरती के विकास के आरम्भ काल से हम सबसे पहले से ही ये जीव धरती पर मौजूद है अतः कभी भी दिखाई देने पर इन बेजुबानो की हत्या बिल्कुल भी न करें क्यों कि, हमारे आस पास पाये जाने वाले सभी सर्प जहरीले नहीं होते है। इस रेस्क्यू को सफल व सुरक्षित बनाने में पुलिस कॉन्स्टेबल मनदीप यादव, गोविंद सिंह, परविंदर सिंह ने भी पूरी मदद की।