Wednesday , July 24 2024

सभी शराब के ठेकों पर लगवाएं सीसीटीवी और वार कोड स्कैन की करें व्यवस्था – जिलाधिकारी

पंकज शाक्य

मैनपुरी- जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह ने आबकारी अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि अवैध शराब की बिक्री किसी दशा में न हो, सभी अनुज्ञापी आबकारी के निर्धारित नियमों, शर्तों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें, सभी देशी मदिरा, विदेशी शराब की दुकानों पर सी.सी.टी.वी. कैमरे लगे हो और नियमित रूप से चालू रहे, उनकी रिकॉर्डिंग सुरक्षित रखी जाए, किसी भी दुकान पर लोगों को बिठाकर शराब न पिलाई जाए, दुकान पर सभी रिकॉर्ड अद्यावधिक रहें, उठान से लेकर बिक्री तक की प्रत्येक प्रविष्टी का अंकन किया जाए, आबकारी बारकोड स्कैनर उपलब्ध रहे, दुकान पर कार्यरत सेल्समैन का पुलिस से सत्यापन कराया जाए, अनुज्ञापी सेल्समैन की गतिविधियों पर नजर रखें। उन्होंने कहा कि कोई भी दुकानदार मुद्रित मूल्य से अधिक मूल्य पर बिक्री न करें, सुनिश्चित किया जाए।
श्री सिंह ने कहा कि किसी भी दशा में नकली, अवैध शराब की बिक्री न हो, देशी, अंग्रेजी शराब के ठेकों की नियमित रूप से जांच की जाए, निरीक्षण के समय स्टॉक रजिस्टर का सत्यापन गहनता से किया जाए, ठेके के निरीक्षण के दौरान स्केनर से पेटी, बोतल की स्कैनिंग की जाए, शराब की बिक्री निर्धारित ठेके से ही हो, किसी भी दशा में ढाबों, खोखे से शराब की बिक्री न हो। उन्होने आबकारी अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि उठान पर विशेष ध्यान दें, नकली, पुरानी खाली शराब की बोतलों की बिक्री की निगरानी की जाये। उन्होने कहा कि प्रतिबंधित सामग्री से अवैध शराब बनाने वालों पर कड़ी नजर रखी जाए, अवैध शराब के कारोबार में संलिप्त के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही हो। उन्होंने जन सामान्य से कहा कि यदि कोई व्यक्ति अवैध शराब के कारोबार में संलिप्त हो या किसी के द्वारा अवैध शराब बनाई जा रही हो तो उसकी सूचना उनके व्हाट्सएप नंबर 9454417511, जिला आबकारी अधिकारी के व्हाट्सएप नंबर 9454465664 पर देकर जिला प्रशासन का सहयोग करें, सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा।
जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद के सभी औद्योगिक क्षेत्र के गहन निरीक्षण हेतु 06 टीमें गठित की गई है, जिन्हंे किसी भी औद्योगिक परिसर, चालू-बंद फैक्ट्री, संस्थान, मील, भट्टा आदि में किसी भी प्रकार के अवैध शराब निर्माण एवं बिक्री की गतिविधि के चलने से राजस्व एवं जनहानि होने की संभावना को रोकने के लिए उत्तरदायित्व सौंपा गया है। उन्होंने बताया कि उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी सदर, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र प्रथम को टीम संख्या-01 में, उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी भोगांव, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र द्वितीय को टीम संख्या-02 में, उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी करहल, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र तृतीय को टीम संख्या-03 में, उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी कुरावली, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र संख्या-04 को टीम संख्या-04 में, उप जिलाधिकारी किशनी, क्षेत्राधिकारी भोगांव, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र संख्या-02 को टीम संख्या-05 में एवं उप जिलाधिकारी घिरोर, क्षेत्राधिकारी कुरावली, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र संख्या-06 को टीम संख्या-06 में लगाया गया है, सभी टीमों के साथ उद्योग विभाग के महाप्रबंधक की ड्यूटी लगाई गई है, गठित टीमें पूरे जनपद में औद्योगिक क्षेत्रों एवं अन्य औद्योगिक प्रसारण फैक्ट्रियों, संस्थानों, मीलों आदि की गहन जांच कर यह सुनिश्चित करेंगे कि उन्हें किसी भी प्रकार की अवैध शराब के निर्माण का विक्रय का कार्य न हो।