Saturday , December 2 2023


इटावा पूर्व एसपी सिटी को थप्पड़ मारने वाले संजू चौधरी को बनाया भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयूमो) का जिलाध्यक्ष

 

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में ब्लाक प्रमुख चुनाव के दौरान एसपी सिटी प्रशांत कुमार को थप्पड़ मारने वाले संजू चौधरी को भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयूमो) का जिलाध्यक् बना देने से सियासी पारा चढ़ गया है। भाजयूमो के प्रदेश अध्यक्ष प्रांशु दत्त दिवेदी की ओर से जारी सूची में इटावा से विवेक चौधरी उर्फ संजू को अध्यक्ष घोषित किया गया है। 27 अगस्त को घोषित सूची के बाद इटावा मे संजू चौधरी को बधाई देने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। बधाई देने वालो मे भाजपा की एमएलए सरिता भदौरिया के अलावा जिला अध्यक्ष संजीव राजपूत,उपाध्यक्ष प्रशांत चौबे प्रमुख रूप से शामिल है।

पुलिस ने अपनी तफ्तीश मे पाया कि 10 जुलाई को ब्लाक प्रमुख के मतदान के दौरान बढ़पुरा ब्लाक कायार्लय के बाहर सैकड़ों की भीड़ को पुलिस ने हटाने की कोशिश की थी, इस पर भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर फायरिंग की थी और एक युवक ने एसपी सिटी प्रशांत कुमार को थप्पड़ मार दिया था। थप्पड़ मारने वाले की पहचान विवेक चौधरी उर्फ संजू चौधरी के रूप में हुई थी। 12 जुलाई को सिविल लाइन थाना पुलिस ने संजू चौधरी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, जो 16 जुलाई को जमानत पर रिहा होकर आया है। जबकि दूसरे आरोपी विमल भदौरिया समेत अन्य आरोपी अभी भी फरार हैं।

तत्कालीन भाजपा जिलाध्यक्ष अजय धाकरे और विधायक सरिता भदौरिया समेत कई नेता मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ से इस प्रकरण को लेकर मिले थे। इस पर 15 अगस्त को अजय धाकरे को हटाकर संजीव राजपूत को भाजपा जिलाध्यक्ष बना दिया गया था। एसपी सिटी को इटावा से हटाकर मुजफ्फरनगर मे एसपी क्राइम के पद पर तैनात कर दिया गया है। राजनैतिक तौर पर इस दफा की खासी चर्चा हो रही है कि लोग शासन स्तर पर की गई इस कार्यवाही को लेकर सवाल उठा रहे है।

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव का कहना है कि भाजपा अपराध मुक्त प्रदेश का दावा करती है लेकिन एसपी को थप्पड मारने वाले एक अपराधी को युवा मोर्चा का अध्यक्ष बना कर सम्मान देती है, भाजपा का यह दोहरा चरित्र किसी से छिपा नही है इससे साफ है कि भाजपा का अपराध मुक्त नारा केवल विरोधियो के खिलाफ अभियान का ही हिस्सा है। काग्रेंस के पूर्व जिलाध्यक्ष उदयभान सिंह यादव भी भाजयुमो अध्यक्ष की ताजपोशी पर सवाल उठाते हुए कहते है कि भाजपा स्वच्छ राजनीति की बात करती है लेकिन जिस तरह से एसपी को थप्पड मारने वाले को अध्यक्ष बनाया गया है उससे साफ है कि भाजपा कहती कुछ है और करती हुछ है।