Thursday , June 13 2024

फोन टैपिंग के मामले पर राहुल गांधी को बीजेपी से मिला जवाब, “फोन जांच एजेंसी को सौंपे, कार्रवाई होगी”

पेगासस जासूसी मामले पर विवाद के बीच कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने दावा किया है कि उनका फोन टैप किया गया. अब बीजेपी ने पलटवार करते हुए कहा है कि राहुल गांधी को अगर लगता है कि उनका फोन टैप हुआ है तो उन्हें इसे (फोन) जांच एजेंसी को सौंप देना चाहिए. अगर जांच में ये सच पाया जाता है तो आईपीसी के हिसाब से कार्रवाई होगी.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि पेगासस एक हथियार है। इजरायली सरकार इसे हथियार मानती है। ये हथियार आतंकवादियों और अपराधियों के खिलाफ इस्तेमाल किया जाता है। प्रधानमंत्री और गृहमंत्री ने इस हथियार को हिंदुस्तान की संस्थाओं और लोकतंत्र के खिलाफ प्रयोग किया है। मेरा फोन टैप किया।

उन्होंने आगे कहा कि यह सिर्फ मेरी निजता का मामला नहीं है, जनता की आवाज पर आक्रमण है। सुप्रीम कोर्ट और राफेल की जांच को रोकने के लिए पेगासस का प्रयोग किया गया।

विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे, केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी, शशि थरूर, शिवसेना राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी और कई अन्य शामिल थे.गृहमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए और नरेंद्र मोदी पर न्यायिक जांच होनी चाहिए क्योंकि इसका ऑथराइजेशन PM और गृहमंत्री ही कर सकते हैं।